Ivy Lee Method |    इवी ली विधि | Increase your Productivity in a simple way |

ivy lee method

Ivy Lee Method / इवी ली विधि- To do सूची मैं केवल 6 कार्य रख हम अपनी प्रोडक्टिविटी को कई गुना बढ़ा सकते हैं|

हम सभी अपने उत्पादकता में सुधार लाना चाहते हैं| उत्पादकता (Productivity) की खोज कभी खत्म नहीं होती| सभी व्यवसाय और व्यक्ति चाहते हैं कि वह अधिक से अधिक कार्य कर सके| 

उत्पादकता सलाहकार (Productivity Consultant) इवी ली ने 1990 की शुरुआत में एक बहुत ही सरल प्रणाली विकसित की जिसका उपयोग एक सदी से भी अधिक समय से किया जा रहा है| 

Ivy Lee
Ivy Lee

1918 ,अमेरिका की सबसे बड़ी कंपनी में से एक स्टील कंपनी के मालिक चार्ल्स एम स्च्वाब (Charles M. Schwab) अपनी कंपनी में उत्पादकता बढ़ाना चाहते  थे| इसके लिए उन्होंने इवी ली को बुलाया जो एक प्रसिद्ध पीआर पेशेवर (PR Professional) थे| स्च्वाब  ने ली को निर्देश दिए कि वह अपनी कंपनी को और काम करने में मदद करें| इवी ली ने अधिकारियों को समझाया कि वह कैसे प्रतिदिन अपनी उत्पादकता को बढ़ा सकते हैं| 

Steps of Ivy Lee Method/ इवी ली विधि

उन्होंने अधिकारियों को एक सिस्टम  समझाया:-

Steps of Ivy Lee Method
Steps of Ivy Lee Method

Step I 

अपने सभी उद्देश्यों का स्पष्ट दृष्टिकोण (Clear Vision of goal) रखें|  अपनी लंबी अवधि के उद्देश्य साफ-साफ परिभाषित कर रखें| लक्षण निर्धारित करके हम यह विचार स्पष्ट कर सकते हैं कि हमें क्या हासिल करना है| 

Step II

हर दिन के अंत में,  तय करें कि वह कौन से 6 कार्य (Task) है जो हमें अगले दिन पूरे करने हैं| उन्हें एक कागज पर लिख ले| इसे टू डू सूची (To Do List)  कहते हैं| इस टू डू सूची (To Do List) में 6 से अधिक कार्य नहीं होने चाहिए|

Step III

महत्व के अनुसार अपने सभी कार्यों की योजना बनाएं (Prioritize) | सभी कार्यों के प्रभाव का सावधानीपूर्वक मूल्यांकन करें|

Step IV 

सबसे पहले टू डू सूची (To Do List) का सबसे पहला कार्य करें| जब तक वह कार्य संपूर्ण नहीं हो जाता,  कोई दूसरा कार्य ना करें| अच्छे से ध्यान (Focus) लगाकर अपना पहला कार्य संपूर्ण करें और  विचलित ना हो| जब तक पहला कार्य फोन ना हो तब तक दूसरे के बारे में सोचें भी ना | 

Step V

पहला कार्य खत्म होने पर दूसरे कार्य पर जाएं| इसे ध्यान के साथ पूर्ण करें|

Step VI

इस प्रकार अपने अन्य कार्य को संपन्न करें| यदि कोई कार्य रह जाता है तो उसे अगले दिन की टुडू सूची में जोड़ दें| इसी प्रक्रिया को हर रोज  दोहराएं| 

आपने देखा की  इवी ली विधि कितनी अनुकूल और आसान (Simple) है| इसे आप कहीं भी उपयोग कर सकते हैं चाहे वह घर हो, व्यवसाय, या छात्र की पढ़ाई| सोच रहे होंगे, कि सिर्फ एक सरल टू डू लिस्ट को प्राथमिकता देने से उत्पादकता कैसे बढ़ सकती है?  आइए इस कारण जानते हैं|

 इवी ली विधि के फायदे/ Benefits of Ivy Lee Method

निर्णय (Desicion) थकान को कम कर देता है

 हमें दिन भर में बहुत सारे निर्णय लेने पड़ते हैं| क्या पहनना है? ,  खाने में क्या बनेगा? , इस ईमेल का क्या जवाब बनेगा? , ऐसे कई सवाल हैं जो हमारे दिमाग में निरंतर चलते रहते हैं, और हमें उनके लिए कुछ ना कुछ निष्कर्ष निकालना ही पड़ता है| निर्णय लेने में ऊर्जा लगती है|  

कुछ समय बाद यह निर्णय हमें मानसिक रूप से थका देते हैं| एक अच्छी टू डू लिस्ट की वजह से हम पहले से ही जानते हैं कि हमें अगले दिन क्या कार्य करना है| बिल गेट्स (Bill Gates) और मार्क जकरबर्ग (Mark Zuckerberg) जैसे बड़े लोग हमेशा एक ही टी शर्ट(T-shirt) पहनते हैं ताकि उन्हें रोज यह निर्णय लेना पड़े कि उन्हें क्या  पहनना है|

प्राथमिकता का आभाव / Lack of Prioritization

हमें रोज एक तयशुदा  इच्छा शक्ति और ऊर्जा मिलती है| सुबह के समय यह ज्यादा होती है और शाम होते होते हमारी ऊर्जा और इच्छाशक्ति दोनों ही खत्म हो जाती है|  क्योंकि सुबह के समय हमारे अंदर भरपूर ऊर्जा होती है, उस समय हमें सबसे मुश्किल  या जरूरी कार्य करने चाहिए| जब हम यह कार्य खत्म करते हैं, तो हम आगे के दिन के लिए और उत्साहित महसूस करते हैं|

अमेजॉन (Amazon) के मालिक जैक   बेजॉस (Jeff Bezos) अपने सभी जरूरी निर्णय  लंच से पहले ही ले लेते हैं|

एक समय पर एक ही कार्य पर ध्यान देना / Focus

 हमने अक्सर देखा है कि लोग मल्टीटास्किंग करना चाहते हैं| लोग मल्टीटास्किंग को बेहतर भी मानते हैं परंतु यह गलत है| हमारा दिमाग एक बार एक समय में एक कार्य करने के लिए बना है|  जिसे हम मल्टीटास्किंग समझते हैं वह असल में मल्टी स्विचिंग है| फोन से ईमेल,ई-मेल से प्रोजेक्ट रिपोर्ट इस प्रकार हम तीन चीजों में अपने ध्यान को बांटते रहते हैं| मल्टी टास्किंग हमारी उत्पादकता को 40% तक कम कर सकता है| 

जब हम अपना ध्यान एक जगह से दूसरी जगह लगाते हैं और फिर वापस पहले काम पर जाते हैं, तो वापस फोकस करने में हमें 20 मिनट तक लग सकते हैं| इस प्रकार हमारा समय खराब होता है| एक समय में एक काम करके हम उस काम को ज्यादा बेहतर तरीके से कर सकती हैं|

एक प्रारंभिक बिंदु प्रदान करता है / Starting Point

 सुबह उठकर यह सोचना कि काम कहां से शुरू करना है,  अक्सर  कार्यों में विलंब करने का एक बहाना बन जाता है|  एक कार्य शुरू करना कठिन हो सकता है, खासकर तब जब आपके पास करने के लिए सौ काम हो|  एक बार शुरू कर देने के बाद बाकी सभी काम आसान हो जाते हैं|

दिन की शुरुआत में आपकी चेक लिस्ट तैयार होने से आप जानते हैं कि अपनी उर्जा को कहां केंद्रित करना है| यह आपको ध्यान भटकाने और काम बंद करने से रोकता है|

सीमा निर्धारित करता है / Set Limits

 हम कभी कभी बहुत सारे काम की जिम्मेदारी ले लेते हैं और बहुत ही कम काम कर पाते हैं|   इवी ली विधि हमें खुद को सीमित करने की अनुमति देती है| हमारी टू डू लिस्ट में 6 से अधिक काम नहीं होने चाहिए|  इवी ली विधि सबसे महत्वपूर्ण दैनिक कार्य करने के लिए हमें प्रोत्साहित करती है| 

Read Also

  1. छोटी-छोटी आदतों से खुद को सुधारें|Daily practices to improve ourselves
  2. Power of subconscious mind.आपके अवचेतन मन की शक्ति|व्याख्या हिंदी में

Zerodha

Use the link to open a Demat account in Zerodha

Books on Investing

Rich Dad Poor Dad: What the Rich Teach Their Kids About Money That the Poor and Middle Class Do Not!

Rich Dad Poor Dad: What the Rich Teach Their Kids About Money That the Poor and Middle Class Do Not!

Learn to Earn: A Beginner's Guide to the Basics of Investing and Business

Learn to Earn: A Beginner’s Guide to the Basics of Investing and Business

one wall up wall street

One Up On Wall Street: How to Use What You Already Know to Make Money in the Market

The intelligent Investor

The Intelligent Investor

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *